Thursday, February 25, 2010

चिकन कला पर एक रेडियो फीचर

बहुत पहले लखनऊ की चिकन कला पर एक रेडियो फीचर बनाया था सोचा आप के साथ बाँट लिया जाए सुनें


और बताएं

9 comments:

देवेश प्रताप said...

बहुत बेहतरीन .......फीचर है .......काफी जानकारियां भी प्राप्त हुई इस कला के बारें में ......बहुत बहुत शुक्रिया

Amitraghat said...

"वाकई में बेहतरीन मुकुल जी......."
प्रणव सक्सैना amitraghat.blogspot.com

Udan Tashtari said...

बहुत अच्छा लगा..चिकन कला की बहुत उम्दा जानकारी मिली.

डॉ. मनोज मिश्र said...

एक दम मौलिक,आभार.

vikas said...

अच्छी जानकारी

virendra kumar 'veer' said...

KABLE TARIF AUR JANKARI SE BHARPOOR HAI FILM APKI

archana chaturvedi said...

Itna lucknow me rah kar bhi nai jaan paye atiutam

sana said...

sir thanks 4 dis knowledgable feature

Suraj Verma said...

Mujhe toh pta hi ni tha yah sab sir aapki vajah sey yah jankaari prapat hui...thank u sir

पसंद आया हो तो